KYC क्या है जानिए पूरी जानकारी – 2022

By  Gyaanly

Arrow

दोस्तों KYC का फुल फॉर्म: “Know Your Customer = नो योर कस्टमर ” होता हैं जिसको हिन्दी मे “अपने ग्राहक को जानें” यह कह सकते है।

Arrow

और आपको बता दूँ कि इंडिया में KYC वर्ष 2002 के करीब शुरू हुआ था,

Arrow

और इसको अपने भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के जरिए लाया गया था,

Arrow

और फिर 2004 तक यह सभी बैंकों के Account Holder (खाता धारक) के KYC का पूरा होना अनिवार्य हो गया था।

Arrow

दोस्तों आज के टाइम पे आप लोगों को तो पता हि होगा कि Google Pay, PhonePe, Amazon Pay और Paytm ने Online Transactions (लेनदेन) के दौरान

Arrow

आप के साथ धोखाधड़ी होने से आपको बचाने के लिए KYC करवाना इतना जरूरी कर दिया है,

Arrow

और इसलिए अगर आप कोई Digital Payment (डिजिटल पेमेंट) को उपयोग मे लेते है तो आपको फिर KYC के बारे मे मालूम होना जरूरी है।

Arrow

और दोस्तों आपको बता दूँ कि e-KYC भी होता है जिसका (e KYC Full Form In Hindi) फूल फॉर्म

Arrow

“Electronic Know Your Customer = इलेक्ट्रॉनिक नो योर कस्टमर” होता हैं, जिसका हिन्दी मे मतलब “इलेक्ट्रॉनिक अपने ग्राहक को जानें” होता है।

Arrow

Thanks for watching.

दोस्तों अगर आपको हमारी ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे जरूर शेयर करें और अगर  आप इसको और अच्छे से पढ़ना चाहते है तो नीचे लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते है। 

Plus
Arrow